सऊदी अरब में शिया मस्जिद में आत्मघाती बम विस्फोट, 4 लोगों की मौत, 18 घायल                                                 पाक में मौजूद आतंकियों के सुरक्षित पनाहगाह समस्या पैदा कर रहे: अमेव्यापारी नेता मिले मंत्री गोप जी सेरिकी जनरल                                            पूर्वी रूस में 7.0 तीव्रता का भूकंप, सुनामी का खतरा नहीं

दिग्विजय ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, गडकरी के खिलाफ कार्रवाई की मांग

नई दिल्ली : कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की और आरोप लगाया कि आईआरबी इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपर्स लिमिटेड को 10,050 करोड़ रुपये का जोजिला दर्रा सुरंग अनुबंध देना हितों के टकराव और परस्पर फायदा पहुंचाने का मामला है।
सिंह ने पत्र में लिखा है, गडकरी का आईआरबी के प्रवर्तकों- म्हाईस्कर परिवार के साथ संबंध जगजाहिर है! यह हितों के टकराव और परस्पर फायदा पहुंचाने का उदाहरण है! मुझे आपकी सरकार में इस पक्षपातपूर्ण रवैये एवं भाई-भतीजावाद के खुलेआम कृत्य पर अंकुश लगाने के लिए आपकी कार्रवाई की आस है। उन्होंने प्रधानमंत्री से कहा कि म्हाईस्कर परिवार ने अतीत में गडकरी परिवार की कारोबारी कंपनियों में करोड़ों रुपये रूपए निवेश किये और नितिन गडकरी के पुत्र निखिल गडकरी आईआरबी ग्रूप की आईडियल एनर्जी प्रोजेक्ट्स लिमिटेड में शेयरधारक और प्रवर्तक निदेशक हैं।
उन्होंने कहा कि यह कहा जाता है कि सीजर की पत्नी संदेह से परे होनी चाहिए यानी सार्वजनिक हस्तियों से जुड़े लोग संदेह से परे होने चाहिए। चूंकि आपने कहा है कि ना खाउंगा और ना खाने दूंगा, तो हम आशा करते हैं कि आप इस बात को ध्यान में रखेंगे और कार्रवाई करेंगे। सिंह ने अपने पत्र के साथ कुछ सरकारी दस्तावेज भी संलग्न किए हैं। वैसे गडकरी ने भ्रष्टाचार के आरोपों का खंडन किया है और कहा कि सिंह के आरोप पूरी तरह झूठ हैं क्योंकि मंत्रालय ने पारदर्शी ई निविदा प्रणाली का पालन किया। उनका बेटा आईआरबी इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपर्स में निदेशक नहीं है।

News Posted on: 13-01-2016
वीडियो न्यूज़
मासिक राशिफल