सऊदी अरब में शिया मस्जिद में आत्मघाती बम विस्फोट, 4 लोगों की मौत, 18 घायल                                                 पाक में मौजूद आतंकियों के सुरक्षित पनाहगाह समस्या पैदा कर रहे: अमेव्यापारी नेता मिले मंत्री गोप जी सेरिकी जनरल                                            पूर्वी रूस में 7.0 तीव्रता का भूकंप, सुनामी का खतरा नहीं

पठानकोट आतंकी हमले का गुनहगार मसूद खुले आम मना रहा है जश्न

नई दिल्ली। आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद पठानकोट हमले का जश्न मना रहा है। इस आतंकवादी संगठन ने अपनी वेबसाइट पर जश्न का एलान किया है। इसमें मौलाना मसूद अजहर को फरिश्ता बताया गया है। इस वेबसाइट पर मसूद की आवाज में ऑडियो क्लिप भी डाले गए हैं। इसमें कहा गया है कि भारत की खुफिया एजेंसी और अफसर हमले के 48 घंटे बद भी यह पता नहीं लगा पा रहे हैं कि आतंकी (जिन्हें वह फरिश्ता बता रहा है) कहां से आए हैं। इतना ही नहीं मसूद ने कहा कि लगातार 48 घंटे तक भूखे-प्यासे रहकर जागते हुए आतंकी लड़ते रहे। यह कोई आसान काम नहीं है। दूसरी ऑडियो क्लिप में वह कुरान की आयतें पढ़ रहा है। इसके साथ ही उर्दू में कुछ लेख भी वेबसाइट पर डाले गए हैं। वेबसाइट का सर्वर पाकिस्तान में है। इसके बावजूद भी पाकिस्तान सरकार ने अभी तक मसूद के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की है।
पाक आतंकियों के आकाओं की हुई पहचान

भारतीय खुफिया एजेंसियों ने आतंकियों के उन आकाओं की पहचान कर ली है, जिन्होंने पठानकोट एयरबेस पर हमले के दौरान निर्देश दिया था। खुफिया सूत्रों के अनुसार, जिन चार लोगों की पहचान हुई है वे हैं, अशफाक अहमद, हाजी अब्दुल शकूर, कश्मीर जान और आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद प्रमुख मसूद अजहर। खुफिया सूत्रों के अनुसार, पठानकोट हमले की योजा मरकज में बनाई गई थी। वहीं, गुरुवार को भारतीय विदेश सचिव विकास स्वरूप ने पाकिस्तान को कड़े शब्दों में कहा कि जो सबूत मुहैया करवाए गए हैं, उनके आधार पर वह कार्रवाई करे। स्वरूप ने कहा कि गेंद अब पाकिस्तान के पाले में है।

आतंकियों के मोबाइल नंबर का हुआ खुलासा

उधर, पाकिस्तान में बैठे आतंकियों के आकाओं के नाम सामने आने के बाद अब उनके फोन नंबर भी सामने आ गए हैं। एक अंग्रेजी अखबार ने पड़ताल कर दो ऐसे पाकिस्तानी फोन नंबरों का खुलासा किया है जिन पर आतंकियों ने बात की थी। एक नंबर 92-3017775253 पठानकोट हमले के एक आतंकी की मां का बताया जा रहा है, जबकि दूसरा नंबर 92-300097212 है। आपको बता दें कि 92 पाकिस्तान का कंट्री कोड है। दूसरे नंबर पर 31 दिसंबर को रात 9 बजकर 12 मिनट पर कॉल हुई थी।

आतंकियों ने जिस फोन से कॉल किया गया था वो टैक्सी ड्राइवर इकरार सिंह का था। इकरार सिंह इनोवा के ड्राइवर थे, जिन्हें आतंकियों ने मार दिया था और उनकी कार छीन ली थी। आतंकियों ने पाकिस्तान में एक कॉल किया था, जबकि पाकिस्तान से चार कॉल इस नंबर पर आए थे। फोन पर बात करने वाले पाकिस्तानी आका को उस्ताद कहकर संबोधित कर रहे थे। कॉल डिटेल के मुताबिक एक कॉल के दौरान उस्ताद आतंकियों पर बरस पड़ा था, क्योंकि वो तय समय तक एयरबेस नहीं पहुंच पाए थे।

News Posted on: 08-01-2016
वीडियो न्यूज़
मासिक राशिफल