सऊदी अरब में शिया मस्जिद में आत्मघाती बम विस्फोट, 4 लोगों की मौत, 18 घायल                                                 पाक में मौजूद आतंकियों के सुरक्षित पनाहगाह समस्या पैदा कर रहे: अमेव्यापारी नेता मिले मंत्री गोप जी सेरिकी जनरल                                            पूर्वी रूस में 7.0 तीव्रता का भूकंप, सुनामी का खतरा नहीं

CAT 2015 का परिणाम घोषित

नई दिल्ली। कॉमन एडमिशन टेस्ट (CAT) के रिजल्ट का इंतजार कर रहे परीक्षार्थियों के लिए अब इंतजार की घड़ियां समाप्त हो चुकी हैं। CAT की परीक्षा में बैठने वाले कैंडिडेट्स को फिलहाल पर्सेंटाइल भेज दिया गया है, जबकि स्कोर कार्ड 8 जनवरी की शाम को जारी किया जाएगा। आपको बता दें कि इससे पहले यह अफवाह थी कि कैट के रिजल्ट जारी करने से पहले ही कुछ हैकर्स ने इसकी वेबसाइट को हैक कर लिया और उनकी मदद से उम्मीदवार अपना रिजल्ट जान चुके हैं। ऐसा माना जा रहा है कि हैकर्स ने रिजल्ट पेज के सोर्स कोड का इस्तेमाल कर कैट की वेबसाइट को हैक किया था। जब इस बारे में कैट को पता लगा तो उसकी ओर से लॉग इन पेज डिसेबल कर दिया गया और फिर कैं

आगे पढ़े

केंद्र सरकार का बड़ा ऐलान, तृतीय और चतुर्थ श्रेणी में बगैर इंटरव्यू के मिलेगी नौकरी

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने युवाओं को रोजगार देने की दिशा में एक बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि केंद्र सरकार ने फैसला किया है कि एक जनवरी से तृतीय और चतुर्थ श्रेणी की नौकरियों में इंटरव्यू नहीं होगा। उन्होंने सभी राज्यों की सरकारों से भी आग्रह किया है कि वे इंटरव्यू खत्म करके मेरिट के आधार पर युवाओं को नौकरियां देने की नीति अपनाएं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बृहस्पतिवार को देश के युवाओं को नए साल का यह तोहफा देते हुए कहा कि इन दोनों श्रेणी की नौकरियों में इंटरव्यू खत्म करने से भ्रष्टाचार पर लगाम लगेगी और नौकरी पाने के लिए किसी बेरोजगार को सिफारिश के लिए राजनीतिक लोगों के कुर्त

आगे पढ़े

यूपी पुलिस में निकली 28,916 पदों पर भर्ती, अंतिम तारीख से पहले करें आवेदन

नई दिल्ली. क्या आप भी सरकारी नौकरी की तलाश में हैं और पुलिस के रुप में अपना कॅरि‍यर बनाना चाहते हैं? तो आपके पास है सुनहरा मौका। उत्तर प्रदेश पुलिस में पुलिस कॉस्टेबल और पीएसी कॉस्टेबल के 28,916 पदों पर भर्ती निकली है। इच्छुक कैंडिडेट 22 फरवरी 2016 तक ऑनलाइन माध्यम से आवेदन कर सकते हैं।पदों का विवरण1- पुलिस कॉस्टेबल पदों की संख्या: 23200, आयु सीमा 18 से 22 साल (आरक्षित वर्ग को नियमानुसार छूट)   2- पीएसी कॉस्टेबल पदों की संख्या: 5716, आयु सीमा 18 से 22 साल (आरक्षित वर्ग को नियमानुसार छूट)  महत्वपूर्ण तिथियापंजीकरण आरम्भ होने की तिथि: 18/01/2016 पंजीकरण समाप्त होने की तिथि: 17/02/2016 आवेदन शुल्क बैंक में जमा करने की अंतिम तिथि: 19/02/2016 आवेदन स्वी&#

आगे पढ़े

UP संस्कृत कॉलेजों में होंगी जबरदस्त भर्तियां

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश सरकार संस्कृत कॉलेजों में पांच वर्ष बाद फिर से मंडलीय स्तर पर प्रधानाचार्य व शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया प्रारम्भ होने जा रही है।इस तरह भर्तियां 13 मंडलों में की जारी तय है। इसमें प्रधानाचार्य के 176 व शिक्षक के 648 पदों नियुक्तियां होनी तय मानी गई है। माध्यमिक शिक्षा निदेशालय ने शासन को प्रस्ताव भेज दिया है। आधिकारिक विज्ञप्ति के मुताबित, शासनादेश जारी होने के बाद भर्ती प्रकिया प्रारम्भ कर दी जाएगी।इस प्रकार माध्यमिक शिक्षा परिषद से सहायता प्राप्त संस्कृत कॉलेजों में भर्ती के लिए साल 2009 में नियमावली भी तैयार की गई हैं। इसके पूर्व संस्कृत कॉलेजों में शिक्षकों व &

आगे पढ़े

लिखने के शौकीन हैं तो आपके लिए ये हैं बेहतर करियर ऑप्‍शन

टेक्निकल राइटिंग:
आजकल टेक्नोलॉजी हमेशा अपडेट होती रहती है इसीलिए टेक्नोलॉजी और इनोवशन के फील्ड से जुड़ी कंपनियों को अपने प्रोडक्ट और उनके फंक्शन के बारे में कस्टमर को अपटेड करना मुश्किल होता है, लेकिन इस मुश्किल काम को टेक्निकल राइटर सरल शब्दों के माध्यम से बेहद आसान बना देते हैं दरअसल, टेक्निकल राइटर प्रोडक्ट के मैन्युअल, अपेन्डिक्स और कैटलॉग को डेवलप करन का काम करते हैं। आज टेक्निकल राइटर की डिमांड सॉफ्टवेयर, जॉब साइट्स कंपनियों के अलावा, मल्टीनेशनल कंपनियों में भी खूब हैं।वेब कंटेंट राइटर:
प्रिंट की तुलना में इलेक्‍ट्रॉनिक माध्यम में लिखना टफ माना जाता है। वेब पेज आकर्षक न हो, त

आगे पढ़े

ग्राफिक डिजाइनिंग: क्रिएटिविटी से भरा बेहतर करियर ऑप्‍शन

आप क्रिएटिव हैं और क्रिएटिविटी की दुनिया में कुछ नया करने की चाहत है, तो ग्राफिक डिजाइनिंग का करियर आपके लिए बेहतरीन साबित होगा। विजुअल और ग्राफिक आर्ट का इन दिनों इस्तेमाल बहुत बढ़ गया है इसीलिए यहां संभावनाएं भी अधिक हैं। 
क्‍या है ग्राफिक डिजाइनिंग:
ग्राफिक डिजाइनर का काम अपने क्लाइंट के लिए ऐसे क्रिएटिव आइडिया तैयार करना होता है, जो उसके क्लाइंट के इंस्‍टीट्यूट को अलग पहचान दे सकें। इस काम के लिए क्रिएटिविटी सबसे पहली जरूरत है। इसके अलावा, इंडस्ट्री के ट्रेंड्स की पूरी जानकारी, ग्राफिक डिजाइनिंग के क्षेत्र में नए सॉफ्टवेयर्स की जानकारी, प्रोफेशनल अप्रोच और काम को समय पर पूरी करने è

आगे पढ़े

कम समय में कैसे करें NET एग्जाम की तैयारी

नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट 28 दिसंबर 2014 को पूरे देश में आयोजित किया जाएगा। अब इस एग्जाम की तैयारी के लिए काफी कम समय बचा है। इसलिए लास्ट समय में रिविजन करते समय इन प्वाइंट्स को ध्यान में रखें।  तैयारी की समय सीमा को बढ़ाए: नेट के एग्जाम का सिलेबस बड़ा होता है, और अब बहुत कम समय बच गए हैं। ऐसे में आप सही से एक शेड्यूल बनाएं। ज्यादातर नेट परीक्षा में सफल हुए स्टूडेंट्स का मानना है कि लास्ट समय में शेड्यूल बनाकर की गई पढ़ाई एग्जाम पास करने में ज्यादा मदद करती है।  बेसिक चीजों पर ज्यादा ध्यान दें: नेट एग्जाम में बहुत सारे सवाल उस विषय के बेसिक जानकारी से जुड़े होते हैं, इसलिए बेसिक जानकारी बढ़ाएं सिलेबस

आगे पढ़े

चिकित्सको के लिए व्यवसायिक पाठ्यक्रम का आयोजन

आइआइएचएमआर यूनिवर्सिटी ने डॉक्टर्स के लिए व्यवसायिक विकास पाठ्यक्रम का सुभारम्भ किया है । और इस कड़ी में चल रहे 17 वे प्रोफेशनल डेवलपमेंट कोर्स का समापन अगले महीने की 20 तारीख को होगा ।  इस पाठ्यकर्म का संचालन केंद्र  सरकार के स्वस्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय तथा राष्ट्रीय स्वास्थ्य परिवार कल्याण संस्थान के सहयोग स किया जा रहा है। विश्वविद्यालय के डीन डॉ. पी आर सोढाणी ने बताया की स्वास्थ्य प्रबंधन के क्षेत्र में चिकित्सको को कुशल और सक्षम बनाने के लिए 10 हफ्ते के पाठ्यक्रम  का आयोजन किया जा रहा है।

आगे पढ़े

रेलवे ने निकाली 18,000 से ज्‍यादा पदों के लिए भर्तियां, जल्‍द करें आवेदन

नई दिल्ली। यदि आप भारतीय रेलवे में काम करना चाहते हैं तो आपके लिए सुनहरा मौका है. जल्‍द ही रेलवे में 18 हजार से ज्‍यादा पदों पर भर्तियां होने जा रही है। रेलवे में नॉन टेक्निकल पॉपुलर कटेगरी (एनटीपीसी) में 18,252 पदों के लिए ये आवेदन नए साल यानी 2016 में भरे जाएंगे। यह परीक्षा मार्च से मई के बीच होगी। दिलचस्‍प बात यह है कि आवेदन और परीक्षा दोनों ऑनलाइन लिए जाएंगे।
दरअसल, रेलवे में सहायक स्टेशन मास्टर, गुड्स गार्ड, लेखा लिपिक के सैकड़ों पद खाली हैं। पिछले कई महीनों से रेलवे के कर्मचारी इन पदों पर भर्ती की मांग कर रहे थे। ऐसे में 18,252 से ज्‍यादा पदों के लिए एक साथ परीक्षा ली जाएगी। ये परीक्षा 21 रेलवे बोर्ड कराएंग&#

आगे पढ़े

सोशल मीडिया प्रोफाइल से बनाएं अच्छी छवि

आज सोशल मीडिया के जरिए किसी के व्यक्तित्व का अंदाजा लगाना काफी आसान हो गया है। यही वजह है कि मल्टीनेशनल और स्टार्टअप कंपनियां नौकरी पर रखने से पहले आवेदक के प्रोफाइल को परखती हैं। इससे उन्हें अंदाजा लग जाता है कि आवेदक उनकी कंपनी में फिट बैठता है या नहीं। कैसा हो आपका प्रोफाइल, बता रही हैं करुणा कृति प्रतिस्पर्धा की इस दौड़ में मंच कोई भी हो, आपसे बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद की जाती है। चाहे वह ऑनलाइन पर आपकी मौजूदगी की बात ही क्यों न हो। नौकरी तलाशने के क्रम में आपसे एक आदर्श पेशेवर के रूप में दिखने की उम्मीद की जाती है। शायद यही वजह है कि करियर काउंसलर आपसे सोशल मीडिया पर संभल कर चलने की बात कहते

आगे पढ़े

JEE मेन्स के लिए आवदेन 11 जनवरी तक हो सकेंगे

नई दिल्ली। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने शीर्ष इंजीनियरिंग संस्थानों में एडमिशन के लिए होने वाली जेईई मेन्स परीक्षा के लिए फार्म भरने की तिथि 11 जनवरी तक बढ़ाने का फैसला किया है। जबकि पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार यह तिथि 31 दिसंबर तय की गई थी।  छात्र-छात्राएं इस परीक्षा के लिए ऑनलाइन फार्म भर सकते हैं। सीबीएसई के चैयरमैन शेषु कुमार ने बताया कि चेन्नई में बाढ़ के कारण तमिलनाडु से तिथि बढ़ाने का अनुरोध मिला था। कुछ अन्य राज्यों से भी ऐसे अनुरोध मिल रहे थे।  हम चाहते हैं कि छात्रों को किसी प्रकार की असुविधा नहीं हो, इसलिए तिथि को 31 दिसंबर से बढ़ाकर 11 जनवरी करने का निर्णय ल

आगे पढ़े

GOOD NEWS: नए साल में 10 लाख से ज्यादा होंगी भर्तियां

नई दिल्ली। रोजगार बाजार के लिए नया साल कई अच्छे समाचारों के साथ तैयार है क्योंकि कंपनियां साल 2016 में 10 लाख से अधिक नयी नौकरियां देने को तैयार हैं और सही प्रतिभाओं को 10-30 प्रतिशत की वेतन वृद्धि की उम्मीद की जा रही है। नियुक्तियों में मदद करने वाले तथा मानव संसाधन विशेषज्ञों का मानना है कि नियुक्ति गतिविधियों के लिहजा से 2015 में तेजी का रख रहा और अनुकूल आर्थिक वृद्धि दर अनुमान तथा खुदरा, वित्त व प्रौद्योगिकी जैसे क्षेत्रों में स्टार्टअप के आने से यह तेजी आने साल में भी बने रहने की उम्मीद है। इसी के साथ नयी वैश्विक कंपनियों के आने से रोजगार बाजार को और बल मिल सकता है। ये नयी कंपनियां विनिर्माण क्षे

आगे पढ़े

अब बैंकों में क्लर्क के पदों के लिये नहीं होगा साक्षात्कार , होगी केवल लिखित परीक्षा

नई दिल्ली। सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों से लिपिक और अन्य नीचे के पदों पर नियुक्ति के लिये वित्त मंत्रालय ने लिखित परीक्षा कड़ी करने को कहा है क्योंकि इन पदों पर अब कोई साक्षात्कार नहीं होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निचले पदों पर साक्षात्कार नहीं कराने के निर्देश के बाद नियुक्ति प्रक्रिया में बदलाव का फैसला किया गया है। वित्तीय सेवा विभाग ने सार्वजनिक क्षेत्र के सभी 27 बैंकों के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों को भेजे पत्र में कहा, ‘..सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक साक्षात्कार नहीं लेने के बदले लिखित परीक्षा को मजबूत करने के लिये अन्य विकल्प तलाश सकते हैं।  इसमें बुद्धि परीक्षण (साइकोमí

आगे पढ़े

एनवायरनमेंट साइंस से दे लोगो को ग्रीन लाइफस्टाइल

आपकी लाइफ स्टाइल आपकी इमेज और आपकी हेल्थ को इफ़ेक्ट करती हैं. पर इसके अलावा ऐसी एक और चीज़ है जिससे आपकी खराब लाइफ स्टाइल से फर्क पड़ता हैं और वो हैं एनवायरनमेंट.आज के समय में जितना पॉल्यूशन का लेवल बढ़ रहा हैं उसके लिए सरकार द्वारा कई रोजनाएँ भी चलायी जा रही हैं.इस स्तिथि में जब की पॉल्यूशन इतना बढ़ रहा हैं छात्रों के लिए एनवायरमेंटल साइंस या एनवायरमेंटल इंजीनियरिंग में करियर बनाना एक अच्छा भविष्य भी दे सकता हैं.यह कोर्स करके आप एनवायरनमेंट की रक्षा करने के साथ ही लोगो को एक अच्छी ग्रीन लाइफ स्टाइल भी दे सकते हैं. एनवायरमेंटल साइंस :- यह इंटरडिसिप्लिनरी सब्‍जेक्ट है, जो फिजिकल और बायोलॉजिकल साइंस &#

आगे पढ़े

फेलोशिप प्रोग्राम के लिए करें आवेदन

हालही में सरकार द्वारा एक फेलोशिप प्रोग्राम जारी किया गया हैं जिसे गांधी फेलोशिप प्रोग्राम का नाम दिया गया हैं यह कोर्स 2 साल का होगा जिसके तहत देश के नामी विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों से छात्रों का चयन किया जायेगा और उन्हें ट्रेनिंग दी जाएगी ताकि वो अपने आइडियाज से व्यवस्थाओ में चेंज लाये और उन्हें यह प्रशिक्षण भी दिया जायेगा की वे शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में 5 स्कूलों, 5 हेडमास्टरों, 50 अध्यापकों और 500 विद्यार्थियों के साथ मिलकर काम कर सके.करें. कौन है पात्र? इस प्रोग्राम के लिए सिर्फ वही युवा पात्र होंगे जिनकी आयु 25 वर्ष से कम है इसके साथ ही उनके पास अकेडमिक्स के साथ एक्स्ट्रा करिकुलर एक&#

आगे पढ़े

जूनियर्स के लिए यहाँ हैं जॉब

इंद्रप्रस्थ महिला कॉलेज दे रहा हैं जॉब का मौका. विभाग ने अपने 1) जूनियर असिस्टेंट 2) अर्द्ध पेशेवर सहायक 3) एम टी एस - पुस्तकालय के रिक्त पदो के लिए वैकेंसी जारी की हैं जिसके लिए इच्छुक और योग्य उम्मीदवार अपने आवेदन 1 फ़रवरी 2016 तक आवेदन कर सकते हैं. इन रिक्त पदो के लिए शैक्षणिक योग्यता मान्यता प्राप्त संस्थान से ग्रेजुएशन तय किया गया हैं. इन पदो के लिए उम्मीदवार के पास कार्यानुभव होना भी ज़रूरी हैं. इच्छुक उम्मीदवारों को अपने आवेदन विभाग के प्रधानाचार्य, इंद्रप्रस्थ महिला कॉलेज, 31-शाम नाथ मार्ग, दिल्ली -110054 के पते पर भेजने होंगे. पदो पर आवेदन करने सम्बन्धी या अन्य किसी भी जानकारी के लिए विभाग की लिंक http://ipcollege.ac.in/ पर व&#

आगे पढ़े

दिल्ली हाईकोर्ट में हैं वैकेंसी

हायर ज्यूडिशियल सर्विस एग्जामिनेशन-2015 द्वारा दिल्ली हाईकोर्ट के रिक्त पदो के लिए वैकेंसी जारी की गयी हैं जिसके लिए विभाग द्वारा आवेदन आमंत्रित किये जा रहे हैं.इन रिक्त पदो के लिए आवेदन 18 जनवरी 2016 से 8 फ़रवरी 2016 तय स्वीकृत किये जायेंगे हैं. विभाग के रिक्त पदो के लिए शैक्षणिक योग्यता लॉ ग्रैजुएट और कम से कम 7 वर्ष वकालत करने का अनुभव तय की गयी हैं. इन पदो के लिए न्यूनतम आयुसीमा 35 वर्ष और अधिकतम आयुसीमा 45 वर्ष तय की गयी हैं. पदो के लिए उम्मीदवारों का चयन प्रारंभिक परीक्षा , मुख्य परीक्षा और इंटरव्यू के आधार पर किया जायेगा. पदो पर चयनित उम्मीदवारों को मासिक मानदेय 51,550-63,070 रुपए दिया जायेगा. सभी पदो के लिए आवेदन पत्र 

आगे पढ़े

कंप्यूटर में हैं रूचि तो अपनाये ये करियर कोर्स...

ऐसे युवा जिन्हे कंप्यूटर में इंट्रस्ट हैं और जो इसी में आगे अपना भविष्य बनाना चाहते हैं उनके लिए नेटवर्क एनालिस्ट एक बेहतरीन ऑप्शन हैं. किसी भी कंपनी के लिए उसके भौतिक और वर्चुअल पहलुओं का मैनेजमेंट भी बेहद ज़रूरी होता हैं और मैनेजमेंट का यह काम होता हैं नेटवर्क एनालिस्ट का. नेटवर्क एनालिस्ट कंप्यूटर स्पेशलिस्ट होते हैं जिनका काम होता हैं एक नेटवर्क में शामिल कम्प्यूटर्स को एक साथ काम करवाना और इंफॉर्मेशन का आदान-प्रदान करने के लिए सिस्टम को तैयार करना . नेटवर्क एनालिस्ट हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर को कन्फिगर करके व्यापारिक संस्थानों को अपने नेटवर्क सिस्टम गोल्स को हासिल करने में मदद भी क

आगे पढ़े

दैनिक जीवन में अपनाये ये तरीके और करें प्रदूषण को कंट्रोल

बढ़ते पर्यावरण के प्रदूषण को कंट्रोल करने के लिए कई अभियान चलाये जा रहे हैं पर कुछ तरीके ऐसे भी हैं जिन्हे हम अपने दैनिक जीवन में अपनाकर पर्यावरण को प्रदूषित होने से बचा सकते हैं. जानिए कौनसे हैं ये तरीके :-
1) आप अपनी जरुरत के अनुसार की बिजली का प्रयोग करें. व्यर्थ बिजली ना चालू छोड़े ऐसे आप 10 - 40 प्रतिशत बिजली बचा सकते हैं.
2) पिने के पानी को भी व्यर्थ ना फेंके.
3) फ्रीज का दरवाजा अधिक समय के लिए खुला ना छोड़े.
4) अपने वाहनो में हवा का दबाव अधिक ही रखें इससे ईधन कम लगता हैं.
5) प्लास्टिक के बैग्स का इस्तेमाल ना करें. बाहर जाते समय घर से ही बेग लेकर जाएँ.
6) घर में बल्ब की जगह सीएफएल का यूज़ करें.
7) स्थानीय तौर पर उपलब्ध खाद

आगे पढ़े

मेंटल एक्सरसाइज के लिए खेलिए ये मजेदार ब्रेन गेम्स

अक्सर तमाम विद्यार्थी बार-बार याद करने के बाद भी मैथ्स के फॉर्मूले भूल जाते हैं, केमिस्ट्री के इक्वेशंस कई बार रटने के बाद भी उन्हें याद नहीं रहते। अगर इस तरह की समस्या आपके साथ भी है, तो खेलिए कुछ मजेदार ब्रेन गेम्स। इससे न सिर्फ आपकी याददाश्त तेज होगी, बल्कि फॉर्मूलों और इक्वेशंस को याद रखने में भी मिलेगी भरपूर मदद...।
My Personal Memory Trainer
कई बार मैथ्स के फॉर्मूले, केमिस्ट्री के इक्वेशंस, हिस्ट्री के इवेंट्स आदि को याद करते-करते दिमाग काफी थक जाता है। बार-बार कोशिश करने के बाद भी चीजें ठीक से याद नहीं रख पाते हैं, तो खेलिए यह मजेदार गेम। यहां कई तरह की मेंटल एक्सरसाइज दी गई हैं, जिनसे न सिर्फ मेमोरी पावर और एकागî

आगे पढ़े

क्‍या आप हैं रुपए-पैसे के महारथी?

ग्रेजुएशन या पोस्टग्रेजुएशन से पहले अक्सर विद्यार्थियों में कंफ्यूजन होता है कि वे अपनी रुचि से मैच करता हुआ कौन-सा कोर्स चुनें। जिन उम्मीदवारों की रुचि बैंकिंग या इन्वेस्टमेंट के क्षेत्र में होती है, वे इन्वेस्टमेंट बैंकर के रूप में करियर बनाने पर विचार कर सकते हैं। अगर आप उम्दा वर्किंग इन्वायर्नमेंट, आकर्षक सैलेरी पैकेज और बेहतर करियर अवसरों की तलाश में हैं, तो इन्वेस्टमेंट बैंकिंग का करियर आपके लिए आदर्श हो सकता है। जानते हैं इस बूमिंग करियर के बारे में...।

कौन होते हैं इन्वेस्टमेंट बैंकर?
इन्वेस्टमेंट बैंकर जिस संस्थान या कंपनी के लिए काम करता है, उसे वहां के वित्तीय पहलुओं 

आगे पढ़े

इंडियन एयरफोर्स में बनाएं करियर, करें एएफकैट एग्‍जाम की तैयारी

अगर आपका भी ड्रीम अपनी कंट्री की डिफेंस सर्विसेस को सर्व करने का है तो आप इंडियन एयर फोर्स के एएफकैट- 2016 एग्जाम में अपीयर हो सकते हैं। इस एग्जाम को क्वॉलिफाई करने वाले कैंडिडेट्स को फ्लाइंग ब्रांच में शॉर्ट सर्विस कमिशन और टेक्निकल और ग्राउंड डयूटी ब्रांच में शॉर्ट या परमानेंट सर्विस कमिशन ग्रांट किया जाता है। इस नोटिफिकेशन से रिलेटेड डीटेल्स आप यहां जान सकते हैं।
फ्लाइंग ब्रांच
अायु: 20-24 साल
शैक्षणिक योग्‍यता: कैंडिडेट्स किसी भी डिसिप्लिन में 60 परसेंट मार्क्स से ग्रेजुएट हों और उन्होंने 12वीं मैथमैटिक्स और फिजिक्स सब्जेक्ट से पास की हो। या फिर कैंडिडेट्स ने 60 परसेंट मार्क्स से बीई या बीé

आगे पढ़े

इन 5 तरीकों से बढ़ाएं सेल्‍फ कॉन्‍फिडेंस

सफलता के लिए हार्ड वर्क और डेडिकेशन बहुत जरूरी है, लेकिन इससे भी ज्यादा जरूरी है कॉन्फिडेंस। सेल्फ कॉन्फिडेंस मुश्किल राह को भी आसान बना सकता है।
ड्रेसिंग सेंस
आपके कॉन्फिडेंस पर ड्रेसिंग सेंस का बहुत प्रभाव पड़ता है। इसलिए कॉन्फिडेंस बूस्ट करने का पहला स्टेप है, ड्रेस वेल। इसका मतलब यह है कि हमेशा ऐसी ड्रेसेज पहनें, जो आप कंफर्टेबली कैरी कर सकते हैं। ध्यान रहे, आप जितने इंप्रेसिव दिखेंगे, आपके सीनियर्स पर आपकी बात का प्रभाव उतना ही ज्यादा होगा।
तौले फिर बोले
आप जैसे बोलते-बात करते हैं, सुनने वाला भी वैसे ही रिएक्ट करता है। इसलिए जो भी कहें, सोच-समझकर कहें। अपनी बात कहने के लिए सही शब्‍दों

आगे पढ़े

प्रोफेशनल लाइफ से तनावग्रस्त हों, अपनाएं ये टिप्‍स

हमारा काम हमारी जिंदगी का एक बड़ा हिस्सा होता है। अगर आप अपनी प्रोफेशनल लाइफ से तनावग्रस्त हो रहे
हैं, तो इन कुछ तरीकों से आप अपने स्ट्रेस लेवल को मैनेज कर सकते हैं...।
स्वस्थ हो लाइफस्टाइल
आपको यह टिप भले ही पुरानी लगे लेकिन एक हेल्दी लाइफस्टाइल का प्रभाव आपके काम पर जरूर पड़ता है। हेल्दी खाना खाएं, नियमित वर्कआउट करें और अपने शरीर को पर्याप्त आराम भी दें। इन सबसे आपका स्ट्रेस लेवल कम होगा। 
ट्रिगर पहचानें
अपने आसपास चीजों को देखें और एनालाइज करें कि कौन-सी चीजें आपको स्ट्रेस देती हैं। फिर यह तय करें कि कैसे आप उन चीजों को टाल सकते हैं या उनके प्रति अपना व्यवहार बदल सकते हैं।
लड़ाई-झगड़ा नहीं
ऑफिस

आगे पढ़े

वर्कप्लेस में इन गलतियों से बचें

वर्कप्लेस में आपकी छवि आपके काम पर काफी हद तक असर डालती है। अकसर लोग पूरी मेहनत व लगन के साथ ऑफिस में अपनी बेहतरीन इमेज बनाने की कोशिश करते हैं, मगर पूरी कोशिश के बावजूद छोटी-छोटी गलतियां हो ही जाती हैं। इसी वजह से आपको वह जगह नहीं मिल पाती, जिसके आप हकदार हैं। जानते हैं उन गलतियों  के बारे में-
बहाना न बनायेंऑफिस में काम से बचने के कई बहाने होते हैं। ऐसा न समझें कि बार-बार बनाये जा रहे इन बहानों को कोई समझ नहीं रहा।  ऑफिस न आने का कोई बहाना बना आप बॉस से छुट्टी तो ले लेते हैं, मगर ऐसा कर आप धीरे-धीरे दूसरों के विश्वास को भी कम करने लगते हैं, इसलिए ऐसा करने से हमेशा बचें।
ड्रेसिंग सेंस वर्कप्लेस में प्र&

आगे पढ़े

फीडबैक सही दशा से मिलेगी दिशा

हम अपनी कामकाजी जिंदगी का एक-तिहाई हिस्सा ऑफिस में गुजारते हैं। अपने काम के प्रति सदैव सकारात्मक रहते हैं, काफी मेहनत करते हैं, सारा काम समय से पूरा करते हैं। इसके बावजूद हमें यह पता नहीं चल पाता कि हमारी परफॉर्मेंस कैसी है और बॉस हमारे काम से किस हद तक संतुष्ट हैं। कई बार तो यह भी आभास नहीं हो पाता कि ऑफिस में हमारी भूमिका किस स्तर की है। इन सब का असर हमारे प्रदर्शन पर पड़ता है तथा उत्पादन प्रभावित होता है। देखा जाए तो यह सारा खेल 'फीडबैक' की कमी का है। बिना फीडबैक के काम शुरू करने का मतलब है बिना किसी मैप या संकेत चिह्न के यात्रा शुरू करना। आपके पास भले ही काम की अच्छी समझ हो, लेकिन काम को ट्रैक पर रखन&

आगे पढ़े

लिंक्डइन प्रोफाइल में रखें इन बातों का ध्यान

लिंक्डइन प्रोफाइल बनाते हुए इस बात का ख्याल रखें कि उसमें ऐसे कीवर्ड्स का इस्तेमाल किया गया हो, जिससे आपका प्रोफाइल ढूंढ़ने पर हमेशा दिखाई दे।
प्रोफेशनल्स के नाम हों लिंक्डइन का अर्थ है बिजनेस, नौकरी और उससे जुड़े लोग। यहां अपना नाम पूरा लिखा हो। दोस्त क्या बुलाते हैं, इससे यहां कोई फर्क नहीं पड़ता।
फोटो का चुनावऐसा न हो कि यहां आप किसी पार्टी या फिर सैर-सपाटे की तस्वीर अपलोड कर दें। विभिन्न सर्वे में यह बात साफ हुई है कि प्रोफेशनल्स तस्वीर को अन्य के मुकाबले 7 गुना अधिक लोग देखते हैं। 
प्रोफेशनल हेडलाइनजानकारी पोस्ट करते हुए इस बात का ख्याल रखें कि वह ऐसे डिजाइन की गई हो कि अधिक से अधिक ल

आगे पढ़े

कहीं बदलाव न बन जाए भटकाव

पेशेवर जिंदगी में प्रवेश के साथ ही बुलंदियों पर पहुंचने का सपना हर मन में होता है, लेकिन सभी का सपना साकार हो यह जरूरी नहीं। बिखरते सपनों को पूरा करने की जद्दोजहद में कुछ लोग जल्दी-जल्दी करियर बदलते हैं। एक के बाद दूसरा और दूसरे के बाद तीसरा करियर बदलते-बदलते ये लोग कई बार राह ही भटक जाते हैं। करियर में भटकाव के क्या कारण हैं? क्या करें जब बदलें करियर प्लान। बता रही हैं वंदना अग्रवालआरव पत्रकार बनना चाहता था। ग्रेजुएशन के बाद उसने मास कम्युनिकेशन की पढ़ाई की और एक चैनल में प्रशिक्षु पत्रकार के रूप में काम करने लगा। पहले साल उसने खुशी-खुशी काम किया, लेकिन थोड़ा और समय बीतते-बीतते उसे लगा कि वह टी

आगे पढ़े

नौकरी लेते समय न दें झूठी जानकारी

जल्द नौकरी हासिल करने या अत्यधिक महत्वाकांक्षा के चलते उम्मीदवार नौकरी मांगने के दौरान कई बार योग्यता संबंधी ऐसी जानकारी दे देते हैं, जो उनके पास होती ही नहीं। हकीकत सामने आने पर वे जॉब से तो वंचित हो ही जाते हैं, उनके आगे की राह भी कठिन हो जाती है। इसी मुद्दे पर संजीव चन्द की रिपोर्ट
शाइन डॉट कॉम के एक सर्वे के अनुसार वर्तमान समय में ज्यादातर संस्थान अपने कर्मचारियों द्वारा दिए जाने वाले शिक्षा संबंधी प्रमाण-पत्रों में गड़बड़ियों की समस्या से जूझ रहे हैं। एक कंपनी छोड़ दूसरी ज्वाइन करने पर दोनों में दी गई जानकारी में भी काफी अंतर देखने को मिल रहा है। यह सही है कि कंपनियां जॉब देते समय उम्मीदव

आगे पढ़े

इस तरह बन सकते हैं ग्रीन लाइफस्टाइल के प्लानर

हमारी खराब लाइफस्टाइल ने हमारी हेल्‍थ के साथ-साथ अगर किसी दूसरी चीज को सबसे ज्यादा डैमेज किया है, तो वह है एनवायरमेंट। आज तकरीबन हर शहर में पॉल्यूशन लेवल इतने खतरनाक स्तर तक पहुंच चुका है कि सरकारों को इसे कम करने के लिए उपाय खोजने पड़ रहे हैं और क्लाइमेट चेंज को लेकर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सम्मेलन हो रहे हैं। ऐसे में एनवायरमेंटल साइंस या एनवायरमेंटल इंजीनियरिंग ऐसे युवाओं के लिए बेहतरीन कॅरियर ऑप्‍शन है, जो न सिर्फ एनवायरमेंट को प्रोटेक्ट करना चाहते हैं, बल्कि एक सुकूनभरी ग्रीन लाइफस्टाइल जीना चाहते हैं।
क्या है एनवायरमेंटल साइंस?
एनवायरमेंटल साइंस दरअसल, एक ऐसा इंटरडिसिप्लिनरी सब्‍जेक्

आगे पढ़े

प्रोफेशनल लाइफ से तनावग्रस्त हों, अपनाएं ये टिप्‍स

हमारा काम हमारी जिंदगी का एक बड़ा हिस्सा होता है। अगर आप अपनी प्रोफेशनल लाइफ से तनावग्रस्त हो रहे
हैं, तो इन कुछ तरीकों से आप अपने स्ट्रेस लेवल को मैनेज कर सकते हैं...।
स्वस्थ हो लाइफस्टाइल
आपको यह टिप भले ही पुरानी लगे लेकिन एक हेल्दी लाइफस्टाइल का प्रभाव आपके काम पर जरूर पड़ता है। हेल्दी खाना खाएं, नियमित वर्कआउट करें और अपने शरीर को पर्याप्त आराम भी दें। इन सबसे आपका स्ट्रेस लेवल कम होगा। 
ट्रिगर पहचानें
अपने आसपास चीजों को देखें और एनालाइज करें कि कौन-सी चीजें आपको स्ट्रेस देती हैं। फिर यह तय करें कि कैसे आप उन चीजों को टाल सकते हैं या उनके प्रति अपना व्यवहार बदल सकते हैं।
लड़ाई-झगड़ा नहीं
ऑफिस

आगे पढ़े

आप भी बना सकते हैं भाषाओं में भविष्य

आज ग्लोबलाइजेशन के कारण विभिन्न देशों के बीच दूरियां नहीं रह गई हैं। फूड एंड पर्सनल केयर, ऑटोमोबाइल, स्मार्टफोन, सॉफ्टवेयर आदि का बिजनेस ग्लोबल स्तर पर होने लगा है। माइक्रोसॉफ्ट, सैमसंग, एपल आदि जैसी बहुराष्ट्रीय कंपनियों में भी प्रोफेशनल्स के लिए काफी मौका होता है। इसलिए विदेशी भाषा के ज्ञान की अहमियत भी काफी बढ़ गई है। दो या दो से अधिक फॉरेन लैंग्वेज स्किल रखने वाले युवाओं को नौकरी और व्यापार दोनों में ग्लोबल एक्सपोजर मिल रहा है। यही वजह है कि युवाओं में सिर्फ फ्रैंच, रशियन, जर्मन, जैपनीज, मैंडरिन और कोरियन ही नहीं, स्पेनिश, पोर्च्युगीज, पोलिश, रोमानियन, चेक, क्रोएशियन आदि जैसी दूसरी, कम प्र&

आगे पढ़े

सोशल मीडिया प्रोफाइल से बनाएं अच्छी छवि

आज सोशल मीडिया के जरिए किसी के व्यक्तित्व का अंदाजा लगाना काफी आसान हो गया है। यही वजह है कि मल्टीनेशनल और स्टार्टअप कंपनियां नौकरी पर रखने से पहले आवेदक के प्रोफाइल को परखती हैं। इससे उन्हें अंदाजा लग जाता है कि आवेदक उनकी कंपनी में फिट बैठता है या नहीं। कैसा हो आपका प्रोफाइल, बता रही हैं करुणा कृति
प्रतिस्पर्धा की इस दौड़ में मंच कोई भी हो, आपसे बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद की जाती है। चाहे वह ऑनलाइन पर आपकी मौजूदगी की बात ही क्यों न हो। नौकरी तलाशने के क्रम में आपसे एक आदर्श पेशेवर के रूप में दिखने की उम्मीद की जाती है। शायद यही वजह है कि करियर काउंसलर आपसे सोशल मीडिया पर संभल कर चलने की बात कहते

आगे पढ़े

साक्षात्कार आप भी पूछें चंद सवाल

साक्षात्कार के दौरान अकसर इंटरव्यू बोर्ड के प्रश्नों के लिए अच्छी तैयारी की जाती है। अपने क्षेत्र से जुड़ी तमाम जानकारी  आपके पास होती है। अपनी स्किल्स को लेकर आप में गजब का आत्मविश्वास होता है। आप अपनी ताकत और कमजोरियों से वाकिफ होते हैं। लेकिन साक्षात्कार में आपको भी नियोक्ता से कुछ सवाल जरूर पूछने चाहिए, जिससे आपको न सिर्फ जरूरी जानकारी मिलती है, बल्कि इन प्रश्नों से नियोक्ता भी आपका मूल्यांकन कर रहा होता है। इन्हीं चन्द सवालों के बारे में बता रहे हैं अरबिंद मिश्र
नौकरी के लिए साक्षात्कार एक दोतरफा रास्ता है। इसमें साक्षात्कार करने वाले और अभ्यर्थी दोनों तरफ से प्रश्नों और जानका&#

आगे पढ़े

मैनेजमैंट टिप्स :भिन्नता किसी कम्पनी के लिए बहुत बड़ी सम्पत्ति

भिन्नता किसी कम्पनी के लिए बहुत बड़ी सम्पत्ति होती है : विचारों, विधियों और क्षमताओं के अंतर टीमवर्क तथा समस्या सुलझाने के लिए लाभदायक होते हैं । बहरहाल, इस अंतर से तनाव और दबाव भी उत्पन्न हो सकता है ।  उस तनाव को न्यूनतम करने की कोशिश न करें । इसके बजाय, इसका उपयोग उत्पादकता और रचनात्मकता बढ़ाने वाली शक्ति के रूप में करें । 
अपने कर्मचारियों को इस बात के लिए तैयार करें कि वे भिन्नताओं की आलोचना किए बिना दूसरों को समझें : सहभागिता का ऐसा माहौल बनाएं, जहां लोग अपनी योग्यताओं के लिए मूल्यवान महसूस करें तथा भिन्नता की वजह से आने वाली पूरक योग्यताओं पर जोर दें । अंत में भिन्नता की बदौलत मिलने वाली स

आगे पढ़े

जब बनें टीम मेंबर से टीम लीडर तो रखें कुछ बातों का ध्यान

अक्सर देखने को मिलता है कि अधिकतर कर्मचारियों को अपने बॉस से कोई न कोई शिकायत तो रहती ही है । वैसे भी माना जाता है कि बॉस होना कभी आसान नहीं होता क्योंकि कई तरह की चुनौतियों से निपटना तथा कई सारे लोगों से काम लेना कोई आसान काम नहीं है परंतु टीम के सदस्य से पदोन्नत करके यदि किसी कर्मी को टीम लीडर बना दिया जाए तो उसके लिए काम करना और भी कठिन हो सकता है । कठोरता अपनाने और अपशब्दों का प्रयोग करके काम करवाना इसका हल नहीं हो सकता । तो फिर आखिर किस प्रकार टीम लीडिंग में आप सफल हो कर एक परफैक्ट बॉस के रूप में स्वयं को पेश कर सकते हैं? पेश हैं इसी संबंध में कुछ खास टिप्स—
टीम सदस्यों की सुनेंअपने तहत काम करने

आगे पढ़े

जियो स्पैशल टैक्नोलॉजी में करियर की शुरुवात करने से पहलें रखें इन बातों का ध्यान

जियोइंफॉर्मेटिक्स का विविध कार्यों में प्रयोग होने लगा है । इनमें मिलिट्री, ट्रांसपोर्ट नैटवर्क प्लानिंग, एग्रीकल्चर, मौसम विज्ञान, ओशनोग्राफी और मैरीटाइम ट्रांसपोर्ट से लेकर अन्य कई कार्य शामिल हैं जो इसकी मदद से पहले की तुलना में काफी सरल हो गए हैं । 
खूब हो रहा है इस्तेमालजी.आई.एस. या जियोमैटिक्स का इस्तेमाल जियोग्राफिकल इंफॉर्मेशन साइंस या जियोस्पैशल इंफॉर्मेशन स्टडीज में होता है । अकादमिक रूप से यह जियोइंफॉर्मेटिक्स की एक शाखा है । इसके सिद्धांतों को आधार बनाकर तैयार की गई तकनीकों को जियोस्पैशल टैक्नोलॉजी कहा जाता है । इसकी मदद से सभी तरह की भौगोलिक सूचनाओं को इकट्ठा करके उन&#

आगे पढ़े

टॉपर बनने के टिप्स

- बहुत सारे छात्र अक्सर यह चिंता करते हैं कि कल क्या होगा? जबकि चिंता यह करनी चाहिए कि जो कुछ आज कर रहे हैं उसका नतीजा कल क्या होगा ?
 - परीक्षा में प्रश्र पत्र हल करने से पहले हमें उसे बड़े ध्यानपूर्वक पढऩा चाहिए, क्योंकि हड़बड़ी करने से हम सब कुछ जानते हुए भी ठीक से परीक्षा में जवाब नहीं लिख पाते ।
- परीक्षा के दौरान अपने विषय के साथ-साथ हमें अपनी लिखाई पर भी पूरा ध्यान देना चाहिए । अच्छी लिखावट भी अच्छे नम्बर प्रदान करने में सहायक होती है ।

आगे पढ़े

एेसे करें Water Management के क्षेत्र में करियर की शुरुवात

जल इंसान की सबसे बड़ी जरूरतों में से एक है परंतु इतने विकास के बावजूद विश्व की एक बड़ी जनसंख्या आज भी स्वच्छ पेयजल से वंचित है । भारत में दुनिया की कुल जनसंख्या का छठा हिस्सा रहता है जिसमें से 70 प्रतिशत कृषि पर आश्रित हैं जिसकी सिंचाई के लिए वे पानी पर निर्भर हैं ।
देश में कृषि, औद्योगिक और घरेलू उपयोग के लिए पानी की उपलब्धता में पिछले कुछ दशकों में तेजी से बदलाव आए हैं और खेद की बात है कि स्थिति में कोई सुखद सुधार देखने को नहीं मिल रहा है । यही कारण है कि जल संरक्षण और प्रबंधन के क्षेत्र में काफी काम किया जाने लगा है जिसके चलते वाटर मैनेजमैंट के क्षेत्र में करियर बनाने के अनेक अवसर सामने आ रहे हैं । &n

आगे पढ़े

Office में रखें इन बातों का ध्यान

एक निजी स्कूल में अध्यापिका का काम करने वाली शबनम अक्सर अपनी बेढंगी वेशभूषा और बातूनीपन की वजह से अपने छात्र-छात्राओं और सहकर्मियों के बीच मजाक का विषय बन जाती है । आज मध्यवर्गीय शिक्षित महिलाओं में से बहुत-सी ऐसी महिलाएं हैं जो अपनी लापरवाही की वजह से अपने कार्यस्थल में काम करते वक्त कुछ जरूरी बातों का ख्याल रखना भूल जाती हैं जिसकी वजह से उन्हें शर्मिंदा होना पड़ता हैं । नौकरीपेशा महिलाओं को कई बातों का अवश्य ध्यान रखना चाहिए:
- अपनी आयु व पद के अनुसार वस्त्रों का चयन करें। वस्त्र अच्छी तरह प्रैस किए हों और सही फिटिंग के हों, इस बात का विशेष ध्यान रखें।
- अपनी कमजोरियों और मजबूरियों का अपने &

आगे पढ़े

अच्छी नौकरी पाने के लिए केवल डिग्रियां ही काफी नहीं

इतना तो सभी जानते हैं कि केवल डिग्रियां एक अच्छी नौकरी दिलवाने के लिए काफी नहीं होती हैं । केवल उच्च शिक्षा हासिल करके आप यह भरोसा नहीं कर सकते हैं कि आपको रोजगार जरूर मिल जाएगा । आज के प्रतियोगी युग में एक अच्छी नौकरी सुनिश्चित बनाने के लिए आवश्यक है कि युवा विभिन्न शैक्षिक योग्यताओं के साथ-साथ टैक्नीकल व सॉफ्ट स्किल्स में भी माहिर हों । तभी उनको अन्य आवेदकों के मुकाबले तरजीह दी जा सकेगी ।
व्यक्तित्व निखारें  : हर वर्ष बड़ी संख्या में युवा देश भर के शैक्षिक संस्थानों से डिग्रियां लेकर नौकरी की तलाश में निकलते हैं । ऐसे में उनमें सॉफ्ट स्किल्स डिवैल्प करने पर भी काफी जोर दिया जाने लगा है

आगे पढ़े
वीडियो न्यूज़
मासिक राशिफल